मिसकॉल है क्या ??

Author Photo Sudhakar Kumar Fri 28th Nov 2014      Write your Story
missed-call-alerts-inner.jpg
मिसकॉल है क्या ?
फोन पर कुछ सेकण्ड बजकर आपके फोन छूने
से पहले ही कट जाने वाले कॉल को मिसकॉल
कहते हैं।
मिसकॉल की उत्पत्ति कैसे हुई?
इसकी उत्पत्ति को लेकर अनुसंधानकर्ताओं
और इतिहासकारों में काफी मतभेद हैं,कुछ लोग
इसे किसी कंजूस के दिमाग की उपज बताते हैं
तो कुछ लोगों के अनुसार बीसवीं सदी के
आखिरी वर्षों में कैलिफोर्निया के
किसी उपवन में एक व्यापारी के हाथ से फोन
छूटकर गिरकर आधे में कट जाने के कारण
इसकी उत्पत्ति हुई। भारतीय
इतिहासकारों की माने
तो सिन्धुघाटी सभ्यता से जुड़ी खुदाई के
दौरान लोथल में उन्हें मर्तबान में बंद एक
कबूतर के अस्थिपंजर के साथ
कोरा ताम्रपत्र मिला है,जिसे पहला मिसकॉल
माना जा सकता है ।
मिसकॉल कितने प्रकार के होते हैं?
कई बार कॉल सिर्फ इसलिए मिस्ड
हो जाती है क्योंकि आप अपने मोबाइल फोन
के समीप उपस्थित नहीं होते,ऐसे में पूरे समय
बजकर छूटने वाली कॉल को ‘स्वाभाविक
मिसकॉल’ कहते हैं।
कई बार ऑफिस,मीटिंग,कार या गर्लफ्रेण्ड
की निगरानी में होने के कारण आप चाहते हुए
भी फोन नहीं उठा पाते इसे ‘परिस्थितिजन्य
मिसकॉल’ कहते हैं।
लेकिन अक्सर योजनाबद्ध तरीके से सेकण्ड
के लघुतम अंतराल का ध्यान और अनुमान
लगाकर उठाने के पहले काटे गए कॉल
को ‘इरादतन मिसकॉल’ कहते हैं।
मिसकॉल करता कौन है?
मिसकॉल कोई भी कर
सकता है,आपकी गर्लफ्रेण्ड,पडो
सी,रिश्तेदार,मिर्जापुर वाली बुआ
का बेटा,ऑफिस का सहकर्मी,मकानमालिक
कोई भी,किसी पर
भी भरोसा नहीं किया जा सकता,हो सकता है
आप जिस पर सबसे ज्यादा विश्वास करते
हों वो भी आपके साथ विश्वासघात कर जाए
और आपको मिसकॉल कर दे।
कोई मिसकॉल करता ही क्यों है?
कई कारण है,कुछ लोग देश और समाज
को काफी कुछ देना चाहते हैं पर सिर्फ
मिसकॉल दे पाते हैं,कुछ लोग मजबूरी में
मिसकॉल करते हैं क्योंकि उनके फोन में बैलेंस
ही इतना बचता है कि वो बस मिसकॉल कर
पाते हैं। कुछ लोग मोबाइल में बैलेंस डलवाकर
सामने वाले को फोन करना पैसे
की बर्बादी मानते हैं तो कुछ लोग कंजूसी के
चलते मिसकॉल करते हैं । कई बार मिसकॉल
लोगों के मूड के हिसाब से आते हैं,अगर फोन
पर की जाने वाली बात से आपका भला होने
वाला है तो आपको मिसकॉल किया जाता है
वर्ना कॉल। कुछ लोग हिचकिचाहट की वजह
से मिसकॉल करते हैं,कि कहीं आप व्यस्त
हों और फोन की वजह से आपका जरुरी काम न
छूट जाए,मिसकॉल देख आप समय मिलने पर
कॉल कर लेंगे ।
कुछ लोग मितव्ययी होते हैं पर कंजूस
नहीं इसलिए वो मिसकॉल करके पहले
आपको सतर्क करते हैं जब आप अपने सारे
काम छोड़कर फोन तक आते हैं वो कॉल कर देते
हैं,कुछ लोग हीनभावना से दबे होते हैं,उन्हें
लगता है कि अगर वो आपको अपने खर्चे पर
कॉल करेंगे तो ये आपका अपमान होगा ।
और सबसे अंत में वो मिसकॉल
जो अधिकारपूर्वक की जाती हैं,ऐसी कॉल
अक्सर बीवियों और गर्लफ्रेण्ड की ओर से
आती हैं,ऐसी कॉल आने पर उसके मिस होने से
पहले कट कर वापिस लगाना होता है ।
मिसकॉल का साहित्य में क्या योगदान
रहा है?
मिसकॉल किताबों और मोबाइल की कॉललॉग
से निकल म्यूजिक गैलरी तक पहुँच
गया है,भोजपुरी गानों की अमृतवर्षा के बीच
आप ‘मिसकॉल मार रही हो चुम्बन
की अभिलाषी हो,का हो?’ भावार्थ वाले गीत
सुन सकते हैं,हालांकि बिहार पुलिस के नए
नियम के बाद कि महिलाओं को मिसकॉल करने
पर जेल भी हो सकती है इसके निहितार्थ बदल
गए हैं।
बॉलीवुड में भी इसे हाथों-हाथ स्वीकार
किया गया है, यहाँ तक कि परम पूजनीय ‘भाई’
सलमान खान ने खुद बेल्ट हिला-हिलाकर
संकेत किया है ‘बालिकाएं पटाएंगे हम
मिसकॉल से,तेरे चित्र को हृदय से मित्र
चस्पा कर लेंगे फेविकॉल से ’।
मिसकॉल से निज़ात कैसे पाएं?
मिसकॉल लाइलाज़ है,बचाव ही उपचार है।
मिसकॉल से बचने जाएंगे तो कई जरुरी कॉल्स
छूट जाएंगी,अपना दिल बड़ा कीजिये और जेब
ढ़ीली,रोज सुबह योग कीजिये
एकाग्रता बढाइये,यू-ट्यूब पर जोंटी रोड्स
और कैफ के कैचेज देखकर अपना रिएक्शन
टाइम बढाइये,कॉल्स को मिस होने के पहले
ही उठाइए,और अगर सफल न हो सके और
आपका कोई काम न अटक रहा हो तो कॉल
करने की जाय खुद ही मिसकॉल करना शुरू कर
दीजिये।

It's for Anie

Author  Photo Sourabh Malviya   (Fri 30th Oct 2015) It's for Anie
Ek choti si khani…it’s a real story…..you must read……..
There was an boy and girl…ek din ye boy us girl ko msg.karke bahut pareshan karta ..wo roz us girl ko msg karta aur us girl ke bare me hi batata ..but wo girl ye sochti ki us ladke ko uske bare me kaha se pata chalta ..wo ladka us ladki ke ba.... Read More

किसान की घड़ी

Author  Photo Sudhakar Kumar   (Sat 6th Dec 2014) किसान की घड़ी
एक बार एक किसान
की घड़ी कहीं खो गयी.
वैसे तो घडी कीमती नहीं थी
पर किसान उससे
भावनात्मक रूप से
जुड़ा हुआ था और
किसी भी तरह उसे वापस
पाना चाहता था.
उसने खुद भी घडी खोजने
का बहुत प्रयास किया,.... Read More

Heaven's in Reach on St. Pete Beach

Author  Photo James Foley   (Sun 7th Apr 2019) Heaven's in Reach on St. Pete Beach
About 1200 words


Heaven's in Reach on St. Pete Beach
by James Foley


They lowered Bobby Bishop into St. Petersburg soil on a perfect December afternoon. For Jonathan Wilton, who'd flown from New York for the burial, this was Florida's old winter miracle.

But no Florida sunshine cheered Bobby now: lost in Iraq (K.I.A.), aged twenty-eight. No longer in the breeze, steering a sailboat down Pass-a-Grille Channel, or skiing the Vermont hills. No more sunlight or moonlight for Bobby. Ch.... Read More

Find Your Happiness Brother..

Author  Photo SONIA PARUTHI   (Mon 14th Aug 2017) Find Your Happiness Brother..
sob... cry...bawl...
whimperings are there to protect your soft little heart....
When lachryma finally run dry, your heart will be calm and quiet.
Feeling clear inside and empty of tears...
You will be residued with the transpicuous sense of being blessed with life.
So, look for beautiful and positive things around you,
And you will find a hope, a hope to move on... a ray of light to live a happy life...
Admire your mom... admire your lord Krishna..
Have faith in them...
gone will be t.... Read More

My request to Buddha

Author  Photo Kazeronnie Mak   (Sat 22nd Oct 2016) My request to Buddha
I have a request to Buddha,
“ Please let all my friends be healthy and happy forever ?”
Buddha says, “ Only four days !”
I say, “ Alright, Spring-day, Summer-day, Autumn-day, Winter-day. ”
Buddha says, “ Three days !”
I say, “ Alright, Yesterday, Today, Next-day. ”
Buddha says, “ No, two days !”
I say, “Alright, White-day and Black-day.”
Buddha says, “ Just one day !”
I say, “ Alright, when all my friends are living in every single day. ”.... Read More

The romance of the mutes

Author  Photo Kazeronnie Mak   (Sun 1st Jul 2018) The romance of the mutes
Galaxy saw a man and a woman who communicated with the sign language at the train station,
when she was on the way home one evening.
She noticed that the woman asked him for the direction.
He said to her that he did not know.
Galaxy was the volunteer for three years when she studied in university.
Also, she served in the deaf and mute school where she had learned sign language and she could practice it proficiency.
Then she showed the woman the direction.
Galaxy had left her email add.... Read More

Kismat ka Maara Insaan

Author  Photo Your Well WIsher   (Thu 6th Jul 2017) Kismat ka Maara Insaan
Mi ye story Roman English me likh raha hon take saare log padh saken, iska faida utha saken aur mujhe support Karen. Akhir me aap sabhi se guzarish hi ke agar aapku meri ye kahani pasand aaye tu apne suggestion aur comments mujhe please mail karna na bhoolen take mi aage chalkar aur kahaniyan likhon.... Read More

SCIENCE GHOST

Author  Photo SONIA PARUTHI   (Sat 8th Oct 2016) SCIENCE GHOST
SCIENCE GHOST
I looked at my watch . It was exactly 12 midnight. I had missed the last bus to home and hence i had walked for almost an hour. I was very tired. Thank God ! Home was just a few kilometers away . Suddenly at such odd hours i saw a lady coming towards me. From there one truck passed. Truck was moving towards that lady. Truck passed over her. I screamed loudly but nothing happened to her . I was so afraid and scared. That lady was still moving towards me. My eyes dwelled up with te.... Read More

My happiness

Author  Photo Lily   (Tue 5th May 2015) My happiness
Since past twenty days I have been away from him.Its not that I an counting ,but.....
He is not my boyfriend ,we are just good friends.If I tell you the truth I actually love him.we had been together since past three years but I could never tell him.I knew that he also love me and cared for me.I wanted him to propose me first.We both use to spend a lot of time together,laughing and talking.
One afternoon he came to me and said that he want me to tell a very special thing about him.I thought.... Read More